प्रदूषण

"प्रदूषण धीमे जहर की भांति शनै शनै पर्यावरण को दूषित कर रहा है जो मानव प्रजाति पृथ्वी के लिए सदा सदा के लिए अहितकर है।"
आचार्य उदय

3 comments:

राम त्यागी said...

बिलकुल सही बात !

प्रवीण पाण्डेय said...

मानसिक प्रदूषण भी।

अशोक बजाज said...

पर्यावरण सरंक्षण एक गंभीर चुनौती है .
आपको देवउठनी के पावन पर्व पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !