परिवर्तन

“ परिवर्तन के लिये सिर्फ हमारी अच्छी सोच पर्याप्त नहीं है, परिवर्तन तो व्यवहारिक कार्यों से ही संभव है।”

आचार्य उदय

3 comments:

सूर्यकान्त गुप्ता said...

बहुत ही प्रेरणाप्रद! पर अच्छे विचार आने के बाद ही यह कार्यरूप मे परिणित होता है। आभार……॥

प्रवीण पाण्डेय said...

बिना कार्य परिवर्तन संभव ही नहीं।

manav vikash vigyan aur adytam said...

bahoot hi achha laga