प्रथम पूज्यनीय

"माता-पिता सिर्फ जन्मदाता हैं वरन प्राथमिक गुरु व पालनहार भी हैं इसलिए वे ही प्रथम पूज्यनीय हैं।"

आचार्य उदय