व्यवहार

"प्रत्येक मनुष्य स्वयं को महान मानता है किंतु वह व्यवहार मे महानता से परे होता है।"

आचार्य उदय

1 comment: