कडुवा सच

"सच कहने में कोई बुराई नहीं है किन्तु कडुवा सच तो स्वाभाविक तौर पर कडुवा लगेगा लेकिन इसका तात्पर्य यह नहीं कि हम सच बोलना ही बंद कर दें।"
आचार्य उदय

4 comments:

Suman said...

nice

Sunil Kumar said...

shai bat

प्रवीण पाण्डेय said...

कभी कभी कड़ुवाहट भी कह देनी चाहिये।

कविता रावत said...

bahut sahi kaha aapne!
satya kabhi n kabhi samne aa hi jaata hai..jhooth kee kaali parton se nikal bahar use ek din aana hi padta hai...