कलाकार

"कलाकार सारा जीवन कला को समर्पित कर देता है,प्रोत्साहन व पुरूस्कार के क्षण उसके समर्पण भाव को न सिर्फ सम्मानित वरन ऊर्जा भी प्रदान करते हैं।"

आचार्य उदय

3 comments:

Akhtar Khan Akela said...

आदरणीय आचार्य जी आदाब सही लिखा हे कलाकार पुरस्कार का भूखा होता हे और पुरस्कार से वोह त्रप्त हो जाता हे लेकिन जिंदगी जीना और इस जिंदगी में मुस्कुराते रहना रिश्तों को निभाते रहना यह भी एक कलाकारी हे मेरे भाई और यह कलाकारी हम और आप भी खूब अच्छी तरह से दिखा रहे हें. अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

प्रवीण पाण्डेय said...

बड़ा सच है यह जीवन का।

arvind said...

"कलाकार सारा जीवन कला को समर्पित कर देता है...satya