बल प्रदर्शन

"कमजोर असहाय लोगों के समक्ष बल का प्रदर्शन बलशाली होने का प्रतीक नहीं है।"

आचार्य उदय

2 comments:

Akhtar Khan Akela said...

aadrniy aacaary ji aapki yeh sikh yad rkhenge. akhtr khan akela kota rajsthan

प्रवीण पाण्डेय said...

सच है।